Vision And Mission

(दूरदर्शिता और मिशन)

स्थापना का आदर्श

ज्ञान के प्रसार से योग्य, कुशल एवं दक्ष नागरिकों का विकास कर पाने की मौलिक अवधारणा के परिप्रेक्ष्य में विद्यार्थियों को बहु आयामी अवसर सुलभ कराना।

अंर्तदृष्टि

उपयुक्त संज्ञानात्मक वातावरण मे ं चयनात्मकता और समयबद्धता के आधार पर ज्ञान प्रसारित कौशलों का विकास।

प्रणालीगत उद्देश्य

विद्यार्थियों में मूल्यों का विकास कर वैश्विक आर्थिक दृष्टिकोणों के अनुरूप मानसिक संवेगात्मक और संकल्पित वातावरण से उत्तम सामंजस्य स्थापित कर पाने की व्यक्तिगत अंर्तदृष्टि का विकास ।

प्रक्रियात्मक लक्ष्य

  • 1. विषयों के विस्तृत परिक्षेत्र के अंतर्गत विद्यार्थियों के ज्ञान, रूचियों, आदर्शों एवं आदतों का कौशलात्मक परिष्करण करना ।
  • 2. संज्ञानात्मक एवं बौद्धिक प्रतिभा को पोषित कर विद्यार्थियों की सृजनात्मकता का विकास करना ।
  • 3. सत्य और अर्थ के संज्ञान को व्यावहारिक परिणाम के आधार पर समझ पाने की दक्षता का विकास करना ।
  • 4. विद्यार्थियों में पारस्परिक सहयोग, समायोजन और दायित्व-निर्वहण की क्षमता का विकास करना ।
  • 5. अन्तर-सांस्कृतिक भावना को समृद्ध कर विभिन्न संस्कृतियों के विरासत के प्रति ज्ञान और सम्मान के दृष्टिकोणों का निर्माण करना ।
  • 6. पर्यावरणीय और प्राकृतिक संसाधनों के उपभोग एवं संरक्षण के प्रति विद्यार्थियों को अतिसंवेदनशील और जागरूक करना ।
  • 7. विद्यार्थियों के नैतिक चारित्रिक गुणों को विकसित कर उच्च व्यक्तित्व का निर्माण करना ।